Tulsi Benefits in Hindi – Tulsi ke Fayde – तुलसी के फायदे

Tulsi Benefits in Hindi – Tulsi ke Fayde – तुलसी के फायदे

कहा जाता है कि इस पृथ्वी पर मनुष्य की उत्पत्ति से पहले अनेक वनस्पतियों की उत्पत्ति हो चुकी थी। हमारी पूरी पृथ्वी हरी-भरी हो गई थी। तब मनुष्य की उत्पत्ति की गई। बहुत सारे पौधे ऐसे हैं जो बहुत ही लाभकारी और चमत्कारी है। सर्वगुण संपन्न एक ऐसा ही पौधा है जिसका नाम है “तुलसी” (Tulsi) । यह पौधा अत्यंत पवित्र और अपने औषधीय गुणों से भरपूर है। तुलसी को अंग्रेजी में Holi Basil कहते हैं। यह पूरे भारत में पाया जाता है। तुलसी के पांच प्रकार हैश्यामा तुलसी, वन तुलसी, राम तुलसी, कृष्ण तुलसी, और कपूर तुलसी

भारत में तुलसी (Tulsi) को मात्र पौधे के रूप में नहीं माना जाता बल्कि इसे लक्ष्मी -नारायण का प्रतीक भी माना जाता है। हमारे सनातन धर्म में इसकी पूजा की जाती है। लोग अपने घर में इस का पवित्र स्थान देते हैं । भारतीय नारी प्रतिदिन तुलसी की पूजा- धूप दीप नैवेद्य से करती है। आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि यह पौधा बड़ा ही संवेदनशील होता है। इसके पास जाने मात्र से ही यह हमें निरोग्यता प्रदान करता है। इस पौधे का रखरखाव भी बड़ी पवित्रता से करनी चाहिए नहीं तो यह पौधा सूख जाता है।

तुलसी के बारे में कुछ विशेष जानकारी

यह शुभ का प्रतीक होता है। अतः इसे नकारात्मक चीजों से बचाकर रखना चाहिए। हरी-भरी तुलसी लक्ष्मी की प्रतीक होती हैं। इनके रहने से आप का घर खुशियों से भरा रहेगा। क्लेश और रोग से मुक्त रहेगा ।

तुलसी घर का वास्तु दोष दूर करता है ।इस दोष से मुक्ति के लिए तुलसी (Tulsi) को अपने घर के दक्षिण पूरब से लेकर उत्तर पश्चिम के खाली जगह में या गमले में लगा सकते हैं।

तुलसी का पौधा आध्यात्मिक और औषधीय दोनों दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण है। आज यहां पर हम इसके औषधीय गुणों की चर्चा करेंगे। आजकल M N C कंपनियां अपने उत्पादों में तुलसी का अत्यधिक प्रयोग करने लगे हैं ।चाहे वह प्रोडक्ट सौंदर्य प्रसाधन का हो या टूथपेस्ट का, चाहे बालों से संबंधित हो या दवाई से कोई ऐसा क्षेत्र नहीं जहां हमारी तुलसी ना पहुंची हो। अब तो सात समुंदर पार भी, विदेशों में भी इसके महत्व को सराहा जाता है और प्रयोग किया जाता है।

तुलसी में पोषक तत्व –

तुलसी में अनेक पोषक तत्व पाए जाते हैं ।यह Antioxidant और Antiallergic होता है । इसमें Proteins, Carbohydrates, Calcium, Iron, Potassium, Sodium, Magnesium, Vitamins इत्यादि होते हैं ।

Tulsi Benefits in Hindi

तुलसी के फायदे – Tulsi Benefits 

1. तुलसी से स्मरण शक्ति बढ़ती है

सुबह -सुबह खाली पेट बच्चों को तुलसी के 2 पत्ते और बड़े व्यक्ति 5 पत्ते पानी के साथ निगल जाए। इसे प्रतिदिन करें। ऐसा करने से स्मरण शक्ति बहुत ही अच्छी हो जाती है। यह बच्चों या बड़ों के लिए एकदम अचूक औषधि है।

2 . सिर दर्द में तुलसी लाभकारी होता है

8 -10 तुलसीदल पीसकर उसमें असली कपूर मिलाकर पेस्ट बनाएं और अपने ललाट पर लेप की तरह इसे लगाकर पतले कपड़े से 15 या 20 मिनट तक ढक दें\ इसके बाद उसे remove करें।

3 . तुलसी मच्छर भगाता है

नीम का तेल और तुलसी का तेल दोनों बराबर मात्रा में लें और उसमें असली वाला कपूर डालकर अपने कमरे में रख दें। घर से मच्छर बिल्कुल गायब हो जाएंगे।

4 . तुलसी अनिद्रा दूर करता है

पतले झीने कपड़े में 10 पत्ते तुलसी के उसमें थोड़ी सी अजवाइन दोनों को मिलाकर पोटली बना लें और सोते समय अपने तकिए के पास रखें। इससे अच्छी नींद आएगी और अच्छी खुशबू भी मिलेगी।

5 . तुलसी सर्दी, जुकाम और खांसी से निजात दिलाता है

a . तुलसी के 15 से 20 पत्ते, एक छोटा टुकड़ा अदरक का, चार काली मिर्च, सेंधा नमक, मिश्री इन सबको 1 लीटर पानी में डालकर काढ़ा बनाएं । जब यह सूख कर आधा लिटर बचे तो छान लें । शीशे के बर्तन में रखें । दिन में दो या तीन बार इसका प्रयोग करें। चार-पांच दिन लगातार प्रयोग करने से बहुत अधिक लाभ मिलेगा।

b . तुलसी का चाय बनाकर पीने से भी सर्दी में लाभ होता है। डेढ़ कप पानी में चार या पांच दल तुलसी पत्ता , थोड़ा सा अदरक थोड़ी काली मिर्च पाउडर, थोड़ी चीनी सबको उबाल कर छान लें इसमें दो चार बूंद नींबू का रस डालकर पिए। यह एक स्वादिष्ट और उपकारी चाय है।

6 तुलसी बुखार में फायदा करता है

तुलसी की पत्तियों को दालचीनी के साथ उबाल कर काढ़ा बनाकर पिलाने से रोगी को मलेरिया बुखार में फायदा होता है ।तुलसी के पत्तों को पानी में boil करके गरारे करने से गला खराब, हल्का बुखार, शारीरिक दर्द सभी में राहत मिलता है ।

7 तुलसी पेट के कृमि को नष्ट कर देता है

8 से 10 तुलसी के पत्ते का रस निकालकर उसमें चुटकी भर काली मिर्च मिला लें। सुबह- सुबह खाली पेट बच्चों को दें।
इससे कृमि सारे नष्ट हो जाएंगे।

8 . पीरियड में दर्द और अनियमितता को तुलसी सही करता है

तुलसी पत्ता को पानी में उबालकर उसमें मधु मिलाकर खाने से फायदा करता है। लेकिन इसे पीरियड के डेट से 1 सप्ताह पहले प्रारंभ करें और लगातार 6 या 7 महीने तक करने से ही फायदा होगा।

10 . तुलसी घाव को heal करने में सहायक होता है

तुलसी के पत्तों को पीसकर उसमें थोड़ा सा फिटकरी का चूर्ण मिला लें और जहां पर घाव हो या जहां कट गया हो वहां पर इसे लगाएं दो से तीन बार लगाने में ही आपको फायदा नजर आने लगेगा|

10 . तुलसी Tension मुक्त करता है

आपको चार या पांच पत्ते तुलसी के दो या चार दाने छोटी इलायची के लेकर दोनों को एक साथ मुंह में धीरे -धीरे चबाना है । आप देखेंगे कि आपको तनाव से राहत मिली है और साथ ही मुंह का दुर्गंध भी निकल गया है।

11 . तुलसी कैंसर बीमारी होने से रोकता है

तुलसी में एंटीऑक्सीडेंट गुण होता है। इसके कारण हमारे शरीर में कैंसर कोशिकाओं को तुलसी पनपने नहीं देता। कहा जाता है कि प्रत्येक व्यक्ति को तुलसी का दो पत्ता प्रतिदिन निगल जाना चाहिए।

तुलसी पत्ता को हमेशा निगल जाएं, चबाएं कभी नहीं ।चबाने से दाँत कमजोर और काले पड़ जाते हैं क्यों की तुलसी में Mercury होता है ।

 12 तुलसी सौंदर्य को बढ़ाता है

a . तुलसी के 8 या 10 पत्ते , उतने हैं पुदीने के पत्ते और 5 से 6 पत्ते नीम के, इन सब को सिलबट्टे पर पीस लें । इसमें एक चम्मच खट्टी दही मिलाकर चेहरे पर इस्तेमाल करें। 15 से 20 मिनट तक रखें और फिर नॉर्मल पानी से धो लें। सप्ताह में 2 बार इसे इस्तेमाल करें। चेहरा चमकदार हो जाएगा और आप कील मुहांसों से मुक्त हो जाएंगे ।

b . तुलसी के पत्ते का रस 10 , ग्राम नींबू का रस 10 ग्राम दोनों को मिलाकर शीशे के बर्तन में रखें । रुई के फाहे से चेहरे पर से मालिश करें। इसका प्रयोग सुबह और शाम दोनों समय करें। इससे त्वचा कोमल और स्निग्ध हो जाता है।

13 तुलसी बालों को घना, लंबा और चमकदार बनाता है

एक चम्मच तुलसी पाउडर, एक चम्मच करी पत्ते का पाउडर दोनों को नारियल तेल में मिलाकर इसे गुनगुना कर ले। और फिर अपने बालों की जड़ों में धीरे-धीरे मालिश करें ।लगातार प्रयोग करने से बाल का झड़ना बंद हो जाता है। और कुछ दिनों के बाद बाल घने लंबे और चमकदार हो जाते हैं। तुलसी का तेल मालिश करने से भी बाल अच्छे हो जाते हैं ।

14 .तुलसी होठ को गुलाबी बनाता है

पांच से छह पत्ता तुलसी का और पांच से छह पत्ता गुलाब की पंखुड़ियों का, इन्हें पीसकर उसमें दो बूंद नींबू का रस मिला लें होठों पर मलने से होठ का कालापन खत्म हो जाता है और होठ गुलाबी और स्निग्ध हो जाते हैं।

More Healthy Foods

1 – Papaya Health Benefits in Hindiपपीता के फायदे
2 – Health Benefits of Garlic in Hindi – Lahsun ke Faydeलहसुन के फायदे
3 – Health Benefits of Tomatoes in Hindiटमाटर के फायदे
4 – Health Benefits of Lemon in Hindiनींबू के फायदे
5 – Pomegranate Health Benefits in Hindiअनार के फायदे
6 – 18 Amla Benefits in Hindiआंवला के फायदे
7 – Tulsi Benefits in Hindi – Tulsi ke Faydeतुलसी के फायदे
8 – Neem Tree Benefits in Hindi – Neem ke Faydeनीम के फायदे
9 – Ginger Benefits in Hindiअदरक खाने के फायदे और औषधीय गुण
10 – Benefits of Black Pepper in Hindi काली मिर्च खाने के फायदे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here